दिल्ली में सूर्योदय | ज्ञान के सूर्य शिवबाबा के लिए |

दुनिया के सब लोगों के प्रति शिवबाबा का सन्देश और ज्ञान |

Faith के लिए पुरालेख

ओम शान्ति।

इतिहास में श्रेष्ट ते श्रेष्ट शिक्षक, सब मनुष्यों के आत्मिक पिता जी, आत्मा के वैद्य अर्थात शिवबाबा के ज्ञान का बेसिक परिचय देने के लिए यह साईट तैयार की है |

आप ने कभी पुचा होगा ‘वास्तव में मैं कौन हूं ?’ ‘इसी घर में क्यों जन्म लिया?’ ‘यह दुनिया ऎसी क्यों है?’ ‘दुनिया में इतने दुःख अशांति क्यों हैं?’ ‘मनुष्य इतने दुष्ट क्यों बन गए हैं?’ ‘यह सब कुछ कब तक कलेगा?’ आदि | हर धर्म, हर पंथ, हर मत इन और दुसरे प्रश्नों को अलग-अलग उत्तर देते हैं | इन भिन्न-भिन्न मनुष्य मतों में सच्चाई क्या है? दुनिया में बहुत से मार्ग हैं | क्या वे सब किसी न किसी अर्थ में सच्चे हैं या तो चुने हुए मार्ग सच्चे हैं?

अगर आपके अन्दर अपने को और मनुष्य इतिहास को जानने की थोरी-सी भी इच्छा हो रही है, तो शिवबाबा के ज्ञान का परिचय ले लीजिये | किसी मनुष्य धर्म या संस्था से भी सम्बंधित न होनेवाले, सब प्रकार के प्रभाव से परे होनेवाले, निःस्वार्थ, निष्पक्ष शिवबाबा कल्प में एक ही बार इस मनुष्य सृष्टि में आकर मनुष्य आत्माओं को इतिहास की सच्ची कथा सुनाते हैं |

शिवबाबा के ज्ञान को जानने के लिए ज्यादा समय लगाने की दरकार भी नहीं |  यहाँ सब मनुष्यों के प्रति शिवबाबा के सन्देश का सर है | अगर और जानने की इच्छा आप के अन्दर पैदा होगी, तो ज्ञान के सागर का द्वार उतना ही खुलेगा जितना ही आप की खोलने की इच्छा होगी |  सच्चा ज्ञान मुक्ति और जीवन मुत्की का मार्ग है |

Download:       ईश्वरीय ज्ञान का सार